Free Register !!

थिएटर ज्वाइन कैसे करें !

Home / Blogs / थिएटर ज्वाइन कैसे करें !

थिएटर ज्वाइन कैसे करें !

How to Join Theater?

थिएटर क्या होता है और थिएटर ज्वाइन कैसे करें ! सिनेमा की तरह थिएटर भी एक बहुत बड़ा क्षेत्र है | हजारों-हजार लोग इसमें काम कर रहें हैं | कुछ लोग शौक और सामाजिक भावना से काम कर रहे हैं तो कुछ लोग इसमें करियर बना कर अच्छा पैसा भी कमा रहे हैं |

सबसे पहले यह समझें कि थिएटर होता क्या है | थिएटर, स्टेज प्ले, ड्रामा या नाटक सब एक ही होता है | नाटक में किसी कहानी को जो किसी भी विषय पर हो, चाहें कहानी सामाजिक हो या धार्मिक हो या राजनीतिक हो, को एक स्टेज पर सारा का सारा दिखाया जाता है जिसमें स्टेज पर नाटक के सेट होते हैं और नाटक के विभिन्न किरदार होते हैं | ये किरदार नाटक करते हैं और दर्शक नाटक को सामने से लाइव देखती है | इसमें किरदार को अभिनय एक ही बार में अच्छा करना होता है तथा आवाज में इतनी स्पष्टता और बुलन्दी होती है कि स्टेज के सामने बैठे सारे के सारे दर्शकों को संवाद अच्छी तरह से सुनाई दे और समझ में आये | सिनेमा की तरह इसमें भी कई विभाग होते हैं जैसे – निर्देशन, रूप-सज्जा, संगीत, सेट डिजाईन, लाइट इत्यादि | निर्देशक नाटक के किरदारों को समझाते हैं, उनसे अभ्यास कराते हैं और नाटक को एक तय दायरे में यानी स्टेज पर करवाते हैं | इसकी अवधी कम से कम कुछ भी हो सकती है जैसे –15 मिनट , 30 मिनट, 45 मिनट और अधिक से अधिक 2 घंटे से लेकर 3 घंटे तक होती है |

थिएटर का विकसित रूप सिनेमा है या थिएटर से ही सिनेमा की शुरुआत हुई | जब सिनेमा का अविष्कार नहीं हुआ था तब लोग थिएटर देखते थे | शहरों और गावों में बहुत अधिक थिएटर हुआ करता था और लोग रात रातभर जग कर थिएटर देखते थे | मनोरंजन का यह बहुत बड़ा माध्यम था | आज भी थिएटर होते हैं मगर पहले की अपेक्षा कम होते हैं क्योंकि लोग सिनेमा देखना ज्यादा पसन्द करते हैं अतः थिएटर के दर्शकों में कमी हुई है |

सिनेमा और थिएटर में आपस में संबंध होते हुए भी दोनों में बहुत अंतर है | सिनेमा में किरदार कैमरा को ध्यान में रखकर एक्टिंग करते हैं | सिनेमा में एक्टिंग के अलावे बहुत सारे टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है जो कहानी को सिनेमाहॉल के परदे पर आकर्षक बना देता है | थिएटर में किरदार और स्टेज महत्वपूर्ण होता है | थिएटर में लोग शौक से काम करते हैं क्योंकि थिएटर करने में उन्हें अच्छा लगता है | थिएटर स्थानीय लोगों और थिएटर के सदस्यों के सहयोग से चलता है | लोग चन्दा जमा करते हैं और जो पैसा इक्कठा होता है उससे नाटक करते हैं| कुछ प्रोफेशनल नाटक ग्रुप होते हैं | ये लोग नाटक तैयार करते हैं और दर्शकों को नाटक दिखाते हैं मगर इनका नाटक देखने के लिए टिकट लेना होता है | इस तरह का थिएटर ग्रुप महानगरों में जैसे – दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर आदि शहरों में देखने को ज्यादा मिलता है |

सिनेमा के एक्टिंग में आने के लिए पहले थिएटर करना फायदेमंद है | मगर यह जरुरी नहीं है कि सिनेमा में आने के लिए थिएटर करना ही करना है | थिएटर का अपना एक मजा है | कई ऐसे लोग हैं जो सिर्फ थिएटर में काम करते हैं, सिनेमा में कार्य करने में उन्हें मज़ा नहीं आता है | कुछ लोग ऐसे हैं जो थिएटर भी करते हैं साथ ही साथ सिनेमा और सीरियल में भी काम करते हैं | जो भी व्यक्ति सिनेमा के एक्टिंग में करियर बनाना चाहते हैं उन्हें पहले थिएटर करना चाहिए | कुछ वर्षों तक थिएटर करने से अच्छा एक्टिंग सिखने और करने का मौका मिलता है | मगर यदि थिएटर नहीं करना चाहते हैं बल्कि सीधे सिनेमा में कार्य करना चाहते हैं तो बहुत सारे फिल्म और टेलिविजन इंस्टिट्यूट हैं जहाँ से एक्टिंग सिख कर के सिनेमा में कार्य कर सकते हैं |

थिएटर ज्वाइन करने का सबसे आसान तरीका है कि सबसे पहले अपने इलाके में या शहर में पता लगायें कि थिएटर कहाँ-कहाँ होता और कब-कब होता है | समय निकाल कर कुछ नाटक देखें | नाटक देखने से आपको यह समझ में आएगा कि नाटक होता कैसे है | कुछ नाटक देखने के बाद आप खुद समझ जायेंगे कि आपको नाटक कितना अच्छा लगता है और आप नाटक कर सकते हैं कि नहीं | यदि आपको लगता है कि आपको नाटक में रुची है और आप नाटक कर सकते हैं तो अब अपने इलाके के अच्छे नाटक ग्रुप से संपर्क करें | संपर्क करने के लिए सबसे आसान तरीका है आप उनसे बैक स्टेज मिलें | नाटक के बाद नाटक ग्रुप स्टेज के पीछे कुछ देर तक मेकअप उतारते हैं | आप वहां उनसे मिलिए और उनसे उनका मोबाइल नंबर और पता लीजिये और बाद में उनसे मिलिए और उन्हें ज्वाइन कीजिए | इन्टरनेट पर भी आप थिएटर ग्रुप ढूंढ सकते हैं और उनसे मिल सकते हैं और अच्छा लगने पर ज्वाइन कर सकते हैं | शहरों में थिएटर इंस्टिट्यूट भी होते हैं जहाँ कुछ फीस ले करके थिएटर सिखाया जाता है | आप इस तरह के इंस्टिट्यूट में नामांकन ले करके थिएटर सिख सकते हैं | राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय नई दिल्ली, भारत सरकार का विद्यालय है, जो देश का सर्वश्रेष्ठ नाट्य विद्यालय माना जाता है | मगर इस विद्यालय में प्रवेश पाने के लिए पहले से नाटक का अनुभव होना चाहिए साथ ही साथ इस विद्यालय में बहुत ही कम सीट है | अतः यहाँ प्रवेश पाने के लिए अधिक मेहनत करने की जरुरत है | थिएटर जगत में और सिनेमा में कई जानेमाने लोग हैं जिन्होंने यहाँ से पढ़ाई करके अपना करियर बनाया हैं |

ऊपर की सारी बातों को ध्यान में रखकर आप थिएटर ज्वाइन कर सकते हैं और उसमें काम कर सकते हैं | आपका उद्देश्य है सिनेमा में जाना तो थिएटर करते करते आप सिनेमा में भी जा सकते हैं |

by Sudhir Kumar

  Thu, Feb 21, 2019     Administrator India  
Administrator India